Thread Rating:
  • 2 Vote(s) - 4.5 Average
  • 1
  • 2
  • 3
  • 4
  • 5
My Bold Erotic Poetry/SHAIRY
#31
चिड़िया के बैठने से हिल जाती है पेड़ की डाल,
चिड़िया के बैठने से हिल जाती है पेड़ की डाल;
और लड़की चुद जाए तो बिगड़ जाती है उसकी चाल
Reply
#32
चूत ने कहा लण्ड से चुद जाने के बाद,
वाह! वाह!
चूत ने कहा लण्ड से चुद जाने के बाद,
देखो कैसे शरमा के बैठा है भोसड़ी का, मतलब निकल जाने के बाद
Reply
#33
(26-02-2019, 06:26 AM)Meerachatwani111 Wrote: मैं लेटी रहूं, तुम ढुकाते रहो
तो मजा चुदाई का और भी आता है।
मैं चुदती रहूँ, तु देखता रहे,
लंड हिलाते रहो
मजा चुदाई में और भी आती है।
हम वो आशिक हैं जो सुबह को शाम बना देते हैं,
छोटी छोटी मौसमबियों को आम बना देते हैं,
हम से पंगा न ले छोरी,
हम तो वो हैं जो छोटी सी दुकान का भी गोदाम बना देते हैं
Reply
#34
Kaha gayab ho seema naaz ji
Reply
#35
Koi problem h kya seema naaz ji
Kuch zada hi din se ap gayab ho ?
Reply




Users browsing this thread: 1 Guest(s)